स्वस्थ समाज ही देश को सुखी व समृद्ध बना सकता है : मा. योगेश जी

स्वस्थ समाज ही देश को सुखी व समृद्ध बना सकता है : मा. योगेश जी
स्वस्थ समाज ही देश को सुखी व समृद्ध बना सकता है : मा. योगेश जी
स्वस्थ समाज ही देश को सुखी व समृद्ध बना सकता है : मा. योगेश जी
गोरखपुर। सरस्वती बालिका विद्यालय सूर्यकुण्ड में आज दिनांक 21-06-2021 को विद्यालय परिसर में अन्तराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर विद्यालय में सामूहिक योगाभ्यास कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वरिष्ठ प्रचारक एवं विद्या भारती के क्षेत्रीय शिक्षा सेवा संयोजक मा. योगेश कुमार जी थे। जिन्होने आचार्या बहनों को योग की शिक्षा दी। 

कार्यक्रम का आरम्भ सरस्वती प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलन एवं पुष्पार्चन से हुआ। मुख्य अतिथि ने कहा कि दुनिया में फैली वैश्विक महामारी से लाखों-लाखों जाने गयी, इस माहामारी से बचने के लिए हम योग के माध्यम से अपनी रोग प्रति रोधक क्षमता बढ़ाकर स्वास्थ्य लाभ ले सकते हैं, योग आध्यात्मिक विज्ञान है, यह शरीर को अन्दर और बाहर से स्वस्थ बनाता है। योग स्वयं करें और परिवार को भी कराएं और समाज एवं देश को करने की प्रेरणा दें। जब हम स्वस्थ्य होगें तभी सुखी भी होगें। और सुखी समाज ही देश को सुखी और स्वस्थ्य बना सकता है। उन्होनें आचार्या बहनों को सरल व्यायाम और उसके बाद सूक्ष्म प्राणायाम करवाकर स्वस्थ्य रहने की शिक्षा दी। विद्यालय की प्रधानाचार्या ने भी योग प्रशिक्षण में अहम् भूमिका निभायी एवं योग से होने वाले लाभ के बारे में बताया तथा योग शिक्षिका श्रीमती भारती यादव एवं श्रीमती अर्चना पाठक का पूर्ण सहयोग रहा। कार्यक्रम का संचालन डा. अर्चना शुक्ला ने किया। अन्त में विद्यालय की वरिष्ठ अचार्या श्रीमती रश्मि श्रीवास्तव ने आभार व्यक्त किया।