लखनऊ: प्रसिद्ध साहित्यकार तथा उपन्यासकार अमर गोस्वामी जी की मनाई गई पुण्यतिथि

लखनऊ: प्रसिद्ध साहित्यकार तथा उपन्यासकार अमर गोस्वामी जी की मनाई गई पुण्यतिथि
लखनऊ। सरस्वती बालिका विद्या मंदिर जानकीपुरम में अमर गोस्वामी जी की मनाई गई। पुण्यतिथि मनोरमा’ और ‘गंगा’ जैसी देश की प्रतिष्ठित पत्रिकाओं से लंबे समय तक जुड़े रहे हिन्दी के प्रसिद्ध साहित्यकार तथा उपन्यासकार अमर गोस्वामी की आज पुण्यतिथि है, उनकी मृत्यु 28 जून, 2012 को गाज़ियाबाद में हुई थी । अमर गोस्वामी साहत्यिक संस्था ‘वैचारिकी’ के संस्थापक भी रहे ।अमर गोस्वामी एक चर्चित किस्सागो थे हिंदी साहित्य से स्नातकोत्तर करने के बाद दो महाविद्यालयों में अध्यापन किया, पर मन न लगा तो पत्रकारिता में सक्रिय हो गए विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं और प्रकाशन केंद्रों में संपादन सहयोग किया 'मनोरमा' और 'गंगा' जैसी पत्रिकाओं से जुड़े रहे और 'वैचारिकी' नामक साहित्यिक संस्था की स्थापना की जीवनयापन की आपाधापी के बीच भी खूब लिखा उनकी प्रकाशित कृतियों में 'इस दौर में हमसफर', 'शाबाश मुन्नू' नामक उपन्यास और 'हिमायती', 'महुए का पेड़', 'अरण्य में हम', 'उदास राघोदा', 'बूजो बहादुर', 'धरतीपुत्र', 'महाबली', 'इक्कीस कहानियाँ', 'अपनी-अपनी दुनिया', 'बल का मनोरथ', 'तोहफा तथा अन्य चर्चित कहानियाँ' नामक संकलन शामिल हैं।