​संतकबीरनगर : हीरालाल रामनिवास स. वि. मं. उ. मा. वि. खलीलाबाद में मनाई गई संत रविदास की जयंती

​संतकबीरनगर : हीरालाल रामनिवास स. वि. मं. उ. मा. वि. खलीलाबाद में मनाई गई संत रविदास की जयंती
संतकबीरनगर। हीरालाल रामनिवास सरस्वती विद्या मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खलीलाबाद की वंदना सभा में आज संत रविदास जी की जयंती मनाई गई। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री सतीश चंद्र मिश्र ने मां सरस्वती दीप प्रज्वलन एवं संत रविदास के चित्र पर पुष्प अर्पित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री सतीश चंद्र मिश्र ने भैया-बहनों को संत रविदास से जुड़ी कई प्रेरक प्रसंग सुनाया। जिसमें उन्होंने बताया कि संत रविदास एक मोची का काम करते थे। उनके मन में एक निश्चल प्रेम ईश्वर के प्रति था।
बता दें कि सतगुरु रविदास जी भारत के उन महापुरुषों में से एक हैं जिन्होंने अपने उपदेशों से सारे संसार को एकता, भाईचारा पर जोर दिया। रविदास जी की अनूप महिमा को देख कई राजे और रानियां इनकी शरण में आकर भक्ति मार्ग से जुड़े। जीवन भर समाज में फैली कुरीति जैसे जात-पात के अंत के लिए काम किया। रविदास जी के सेवक इनको " सतगुरु", "जगतगुरू" आदि नामों से सत्कार करते हैं। उनकी एक कहावत "मन चंगा तो कठौती में गंगा" बहुत प्रसिद्ध रही है।