संत रविदास जी एक महान समाज सुधारक थे : श्रीमती ज्योति भट्टाचार्या जी

संत रविदास जी एक महान समाज सुधारक थे : श्रीमती ज्योति भट्टाचार्या जी

वाराणसी। श्री हरि निवास खेतान सरस्वती शिशु मंदिर महेश नगर सामने घाट में 27 फ़रवरी को संत रविदास जी की जयंती मनाई गई। इस अवसर पर विद्यालय की प्रधानाचार्या श्रीमती ज्योति भट्टाचार्या जी ने संत रविदास जी के बारे में बताते हुए कहा कि लोगों का मानना था कि उन्हें भगवान ने पृथ्वी पर असली सामाजिक और धार्मिक कार्यों को पूरा करने के लिए भेजा था। उनका मानना था, आपस में सभी भेदभाव को दूर किया जा सकता है। कर्म के प्रति महान कार्यों के लिए गुरु रविदास जी को जाना जाता है। प्रधानाचार्य जी ने आगे कहा कि गुरु रविदास जी ने दलित समाज के लोगों को एक नया अध्यात्मिक संदेश दिया, जिससे वे जाति पाती के भेदभाव से जुड़ी मुश्किलों का सामना कर सके। गुरु रविदास जी ने सिख धर्म के लिए भी अपना योगदान दिया। उनके द्वारा दी गई शिक्षाओं को रविदास्सिया पंथ या धर्म कहा जाता है। गुरु रविदास जी ने अपने शिष्यों को सिखाया कि धर्म के प्रति लालच नहीं करनी चाहिए क्योंकि वह ज्यादा देर स्थाई नहीं होता है। वह बहुत ही बुद्धिमान थे। रविदास जी एक महान समाज सुधारक थे।  इस अवसर पर विद्यालय का समस्त परिवर्तन उपस्थित रहा।