राष्ट्र सेविका समिति की तीसरी प्रमुख संचालिका थी उषाताई चाटी जी : बांके बिहारी पांडे

राष्ट्र सेविका समिति की तीसरी प्रमुख संचालिका थी उषाताई चाटी जी  : बांके बिहारी पांडे
प्रयागराज l रानी रेवती देवी सरस्वती विद्या निकेतन इंटर कॉलेज, राजापुर, प्रयागराज के संगीताचार्य एवं मीडिया प्रभारी मनोज गुप्ता की सूचनानुसार विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री बांके बिहारी पांडे जी ने वात्सल्य की प्रतिमूर्ति उषाताई चाटी जी के जन्मदिवस पर विद्यालय परिवार सहित शत-शत नमन किया l उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की प्रेरणा से नारी वर्ग में राष्ट्र सेविका समिति नामक संगठन चलता है। इसकी तीसरी प्रमुख संचालिका वंदनीया उषाताई चाटी का जन्म भंडारा (महाराष्ट्र) के फणसे परिवार में 31 अगस्त, 1927 (गणेश चतुर्थी) को हुआ था। उनकी प्रारम्भिक शिक्षा भंडारा के मनरो हाई स्कूल में हुई।

वहां श्रीमती नानी कोलते समिति की शाखा लगाती थीं। उसी में उषाजी ने जाना प्रारम्भ किया। मधुर कंठ की धनी उषाजी धीरे-धीरे समिति से एकाकार हो गयीं। इसी दौरान उन्होंने बी.ए और बी.टी. की डिग्री भी प्राप्त की।1948 में उनका विवाह नागपुर में एक स्वयंसेवक श्री गुणवंत चाटी (बाबा) से हुआ। उषाजी ने भंडारा की जकातदार कन्याशाला में और विवाह के बाद नागपुर की हिन्दू मुलींची शाला में पढ़ाया। भूगोल और मराठी उनके प्रिय विषय थे। छात्राओं के विकास एवं उन्हें अच्छा वक्ता बनाने के लिए उन्होंने ‘वाग्मिता विकास समिति’ बनायी, जिसकी 30 साल तक वे अध्यक्ष रहीं। श्री गुणवंत चाटी 1948 में संघ के प्रतिबंध काल में सत्याग्रह कर जेल गये थे।

उषाजी कुछ समय पूर्व ही घर में सबसे बड़ी बहू बनकर आयी थीं। उस कठिन परिस्थिति में धैर्यपूर्वक उन्होंने पूरे परिवार को संभाला। , 17 अगस्त 2017 को त्याग, प्रेम और समर्पण की प्रतिमूर्ति वंदनीय उषाताई चाटी का निधन समिति के नागपुर कार्यालय में ही हुआ। शत शत नमन करने वालों में अनूप कुमार ,सचिन सिंह परिहार ,चंद्रशेखर सिंह, शैलेश सिंह यादव ,अभिषेक शर्मा ,पायल जायसवाल , ओंकार पांडे, संतोष कुमार तिवारी प्रथम, शैलेंद्र कुमार यादव, विद्यासागर गुप्ता, विनोद कुमार, प्रवीण कुमार तिवारी, कुंदन कुमार ,रामचंद्र मौर्य, अभिषेक कुमार शुक्ला ,नागेंद्र कुमार शुक्ला, अजीत प्रताप सिंह, शंकरलाल पटेल, ऋचा गोस्वामी, दीक्षा पांडे ,अर्चना राय, किरन सिंह, जितेंद्र कुमार तिवारी, शिवजी राय ,अनिल उपाध्याय, संतोष कुमार तिवारी द्वितीय, रविंद्र कुमार द्विवेदी ,श्रवण कुमार तिवारी एवं अनुराग कुशवाहा प्रमुख रहे l