​​कर्मकांड को आचरण में उतारे हिन्दू समाज : भैया जी जोशी

​​कर्मकांड को आचरण में उतारे हिन्दू समाज : भैया जी जोशी
​​कर्मकांड को आचरण में उतारे हिन्दू समाज : भैया जी जोशी
​​कर्मकांड को आचरण में उतारे हिन्दू समाज : भैया जी जोशी
​​कर्मकांड को आचरण में उतारे हिन्दू समाज : भैया जी जोशी
​​कर्मकांड को आचरण में उतारे हिन्दू समाज : भैया जी जोशी
सुलतानपुर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ संघ के केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल के सदस्य व निवर्तमान सरकार्यवाह सुरेश जोशी (भैय्या जी जोशी) ने आज यहॉं कहाकि हिन्दू समाज को अपने कर्म कांड को आचरण में उतारे। हमें राष्ट्र व समाज के प्रति कैसा आचरण रखना चाहिए ,इसको सीखने की जरूरत हैं। सज्जनों को ससक्त बनाना तथा दुर्जनो को सज्जन बनाने से देश का कल्याण होगा और इससे विश्व का कल्याण निश्चित है।
     सुलतानपुर में के.एन.आई.कस्बा स्थित नवनिर्मित संघ के विभाग कार्यालय ‘‘प्रो. राजेन्द्र सिंह उर्फ रज्जू भैया सदन’’ के लोकापर्ण के लिए श्री जोशी ने विधि विधान से पूजन सम्पन्न  किया और नवनिर्मित भवन का भ्रमण कर अवलोकन किया। इसके बाद लोकार्पण समारोह में पहुंच कर भारत माता के चित्र पर पुष्पार्चन व दीप प्रज्जवलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। श्री जोशी ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि व्यक्तियों को देखने की दृष्टि अच्छी होनी चाहिए। रज्जू भैयाजी के नाम से जाना वाला यह भवन कई प्रकारों से विचार देने वाला भवन है। यहां विचार विमर्श, चर्चाएं होगी। लोग रज्जू भैया का चित्र देखकर प्रेरणा ले सकेंगे। इससे प्रमाणिकता से काम करने का संकल्प पूरा होगा। संघ का कार्यालय हम सब के जीवन को सही मार्ग पर चलने की प्रेरणा देता हैं। जिस कार्य के लिए जीवन समर्पण किया वह कार्य क्या है जानने की आवश्यकता है।

        उन्होंने कहाकि केवल मातृशक्ति कह देने से काम नहीं चलेगा। आज समाज में बहुत निम्न आचरण हो रहा है। नारी के साथ अत्याचार और दुराचार की घटनाएं आये दिन हो रही है। आज लोगो की मनसा बिना मेहनत के कमाने की बन गयी हैं। बगैर परिश्रम पैसा कमाने की प्रवृत्ति त्यागनी होगी। यह कोई गरीब नही जिसके पास पैसा है वही कर रहा है। अनावश्यक संपदा प्रदर्शन द्वेष पैदा करता है। इसे त्यागना होगा। जातीय और क्षेत्र का भाव त्याग कर सभी एक समान मानने का भाव पैदा कीजिये।

    उन्होंने कहाकि संघ का कार्य अविरोध है। ना संघ का कोई शत्रु है और न ही संघ किसी का शत्रु है। परंतु यह पूरी तरह हमारे नियंत्रण में नही हैं। देश में एक भी मुसलमान और ईसाई न होता तो भी संघ अपना कार्य करता। संघ के साथ ही खड़ा हुआ कम्युनिष्ठों का विरोध के लिए बने संगठन खत्म होने के कगार पर है। देश में जय पराजय का साक्षी और कारण हिन्दु ही है। देश में कभी हारे या जीते दोनों में हिन्दू ही रहा है। पहली दुर्बलता हिन्दू समाज एका नही हैं। जाति बता कर करोङो नही में से अल्पसंख्यक हो जाता है। इसी हिन्दू समाज के जागरण के लिए संघ काम कर रहा है। 

        इससे पहले संघ के विभाग कार्यवाह नवीन कुमार ने मंचासीन अतिथियों का परिचय कराया तथा एकल गीत महेश सिंह ने प्रस्तुत किया। धन्यवाद ज्ञापन विभाग संघचालक डॉ. रमाशंकर मिश्र ने किया। मंच पर श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महामंत्री चंपत राय तथा कार्यक्रम में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के अनिल मिश्र, क्षेत्र कार्यकारिणी सदश्य अशोक उपाध्याय, प्रांत कार्यवाह मुरलीपाल, प्रान्त प्रचारक काशी प्रान्त रमेश जी,,सह प्रान्त कार्यवाह र्डॉ. रासबिहारी जी, सह प्रांत प्रचारक मुनीष जी, प्रान्त प्रचारक प्रमुख रामचंद्र जी ,विचार परिवार से विश्व हिंदू परिषद के गोपाल जी, मजदूर संघ से अनुपम जी, विभाग प्रचारक अजित जी, जिला संघचालक डॉ ए के सिंह, जिला कार्यवाह डॉ पवनेश मिश्र, सह जिला कार्यवाह भानु जी,  सह जिला संघचालक अजय गुप्ता सहित अनुसांगिक संगठनों के पदाधिकारी कार्यकर्ता आदि मौजूद रहे।