लखीमपुर : सनातन धर्म स.शि.म. मिश्राना में मनाया गया डॉ० रामेश्वर दयाल जी का जन्मदिवस

लखीमपुर : सनातन धर्म स.शि.म. मिश्राना में मनाया गया डॉ० रामेश्वर दयाल जी का जन्मदिवस
लखीमपुर। विद्या भारती विद्यालय सनातन धर्म सरस्वती शिशु मंदिर मिश्राना में वंदना सत्र के दौरान सेवाभावी से ओतप्रोत डॉ० रामेश्वर दयाल पुरंग जी का जन्मदिवस बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री मान मुनेन्द्र दत्त शुक्ल जी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए बताया कि डॉ० रामेश्वर दयाल पुरंग का जन्म 13 मार्च, 1918 को ग्राम आदमपुर (जिला जालंधर, पंजाब) में हुआ था। बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय से एम.बी.बी.एस. करते समय उन्होंने संघ के संस्थापक डा. हेडगेवार के पहली बार दर्शन किये। वे उन दिनों वहां शाखा विस्तार के लिए आये हुए थे। युवा रामेश्वर दयाल ने जब उनके प्रखर विचार सुने, तो वे सदा के लिए संघ से जुड़ गये। नब्बे के दशक में जब 'श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन' ने तेजी पकड़ी, तब वे 'विश्व हिन्दू परिषद' के पश्चिमांचल क्षेत्र के अध्यक्ष थे। अतः उन्होंने सहर्ष एक बार फिर जेल-यात्रा की। इसके बाद विश्व हिन्दू परिषद के उपाध्यक्ष तथा गोसेवा समिति के अध्यक्ष के नाते भी उन्होंने काम किया। इस मौके पर विद्यालय का समस्त परिवार उपस्थित रहा।