झांसी : महाराजा अग्रसेन स.वि.मं.इं.कॉ.में मनाया गया भारतीय अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला जी का जन्मदिवस

झांसी : महाराजा अग्रसेन स.वि.मं.इं.कॉ.में मनाया गया भारतीय अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला जी का जन्मदिवस
झांसी । महाराजा अग्रसेन सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में भारतीय अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला जी का जन्मदिवस मनाया गया इस अवसर पर प्रधानाचार्य अखिलेश तिवारी जी द्वारा पुष्पार्चन किया गया और भैया / बहन को कल्पना जी के संघर्ष के बारे में बताया। इसके बाद भौतिक विज्ञान प्रवक्ता राजकुमार जी द्वारा भैया / बहन को कल्पना जी के जीवन के अनेक कार्यों के बारे में बताते हुए कहा कि कल्पना चावला एक भारतीय अमरीकी अंतरिक्ष यात्री और अंतरिक्ष शटल मिशन विशेषज्ञ थी और अंतरिक्ष में जाने वाली प्रथम भारतीय महिला थी। वे कोलंबिया अन्तरिक्ष यान आपदा में मारे गए सात यात्री दल सदस्यों में से एक थीं। भारत की महान बेटी-कल्पना चावला करनाल, हरियाणा, भारत में जन्मी थी। उनका जन्म 17 मार्च् सन् 1962 में हुआ था। उनके पिता का नाम श्री बनारसी लाल चावला और माता का नाम संजयोती देवी था। वह अपने परिवार के चार भाई बहनो में सबसे छोटी थी। घर में सब उसे प्यार से मोंटू कहते थे। कल्पना की प्रारंभिक पढाई “टैगोर बाल निकेतन” में हुई। कल्पना जब आठवी कक्षा में पहुचीं तो उन्होंने इंजिनयर बनने की इच्छा प्रकट की। उसकी माँ ने अपनी बेटी की भावनाओं को समझा और आगे बढने में मदद की। पिता उसे चिकित्सक या शिक्षिका बनाना चाहते थे। किंतु कल्पना बचपन से ही अंतरिक्ष में घूमने की कल्पना करती थी। कल्पना का सर्वाधिक महत्वपूर्ण गुण था , उसकी लगन और जुझार प्रवृति। कल्पना न तो काम करने में आलसी थी और न असफलता में घबराने वाली थी। उनकी उड़ान में दिलचस्पी 'जहाँगीर रतनजी दादाभाई टाटा 'से प्रेरित थी जो एक अग्रणी भारतीय विमान चालक और उद्योगपति थे।