महोबा : स.वि.म.इ.कॉ.चरखारी में मनाई गई पेशवा बालाजी विश्वनाथ की पुण्यतिथि

महोबा : स.वि.म.इ.कॉ.चरखारी में मनाई गई पेशवा बालाजी विश्वनाथ की पुण्यतिथि
महोबा। सरस्वती विद्या मन्दिर इंटर कॉलेज, चरखारी में 02 अप्रैल को महान योद्धा पेशवा बालाजी विश्वनाथ की पुण्यतिथि मनाई गई । इस मौके पर विद्यालय के प्रधानाचार्य छत्रसाल स्वर्णकार जी ने बताया गया कि इन्हें प्रायः पेशवा बालाजी विश्वनाथ के नाम से जाना जाता है। ये एक ब्राह्मण परिवार से थे और 18वीं सदी के दौरान मराठा साम्राज्य का प्रभावी नियंत्रण इनके हाथों में आ गया। बालाजी विश्वनाथ ने शाहुजी की सहायता की और राज्य पर पकड़ मजबूत बनायी। इसके पहले आपसी युद्ध तथा औरंगजेब के अधीन मुगलों की आक्रमणों के कारण मराठा साम्राज्य की स्थिति कमजोर हो चली थी। बालाजी विश्वनाथ मराठा साम्राज्य के पहले पेशवा थे जिन्होंने पेशवाई की नीव रखकर मराठा साम्राज्य को नई शक्ति दी जब मराठा साम्राज्य शिवाजी की मृत्यु के बाद कमजोर पड़ गया था | छत्रपति साहू के शाषनकाल में उन्होंने गृह युद्दो को जीतकर मुगलों को अनेक बार परास्त किया ,इसी वजह से उन्हें “मराठा साम्राज्य का प्रथम स्थापक” भी माना जाता है | उनके बाद उनके पुत्र पेशवा बाजीराव ने मराठा साम्राज्य को आधे भारत में फैला दिया था | इस मौके में समस्त आचार्य परिवार उपस्थित था।