इटावा : स.इं.कॉ.मोतीझील में शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों को किया गया सम्मानित

इटावा : स.इं.कॉ.मोतीझील में शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों को किया गया सम्मानित
इटावा : स.इं.कॉ.मोतीझील में शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों को किया गया सम्मानित
इटावा : स.इं.कॉ.मोतीझील में शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों को किया गया सम्मानित
इटावा : स.इं.कॉ.मोतीझील में शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों को किया गया सम्मानित
इटावा : स.इं.कॉ.मोतीझील में शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षकों को किया गया सम्मानित
इटावा। सरस्वती इंटर कॉलेज, मोतीझील में 04 सितम्बर ,शनिवार को प्रातः वंदना सभा के के दौरान देश के दूसरे राष्ट्रपति, प्रसिद्ध दार्शनिक व शिक्षाशास्त्री डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिवस शिक्षक दिवस के रूप में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती जी के चित्र में पुष्पार्चन एवं दीप प्रज्जवन व वन्दना से हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विभाग प्रचारक श्री दीपेश जी, विद्यालय के प्रबंधक श्री नरसिंह भदौरिया जी एवं प्रधानाचार्य श्री भारत सिंह जी के द्वारा डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के चित्र पर पुष्पार्चन व दीप प्रज्वलन किया। कार्यक्रम में भैया - बहनों की मुख्य भूमिका रही।
कार्यक्रम का शुभारंभ कक्षा अष्टम की बहन मानसी साधिका एवं भैया मनोहर ने भाषण प्रस्तुत कर अपनी सभी का मन मोह लिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के अध्यक्ष इटावा के विभाग प्रचारक श्रीमान दीपेश जी ने सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के बारे में कहा कि ये महान हिंदू विचारक दार्शनिक तथा योजक थे, हमारी शिक्षा राष्ट्र की एकता को मजबूत बनाती है शिक्षक समाज का दर्पण होता है अन्यान उनकी बातें बता कर हम सभी का मार्गदर्शन किया ।
विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री भारत सिंह जी ने कहा कि हमारी संस्कृति में गुरु का स्थान ईश्वर से भी ऊपर होता है। माता पिता के बाद गुरु का जीवन में महत्वपूर्ण स्थान होता है। वह गुरु ही होता है जो हमारे अंतस के अंधकार को दूर कर ज्ञान रूपी प्रकाश फैलाता है। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के सांस्कृतिक प्रमुख श्री संतोष जी ने किया। विद्यालय के भैया / बहनों ने अपने समस्त गुरुजनों को सम्मानित किया। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता विद्यालय के वरिष्ठ आचार्य श्री गजेंद्र सिंह जी ने समाज में सबसे ऊंचा स्थान गुरु का होता है,सभी को अपने गुरु का हमेशा सम्मान करना चाहिए।
विद्यालय के प्रबंधक श्री नर सिंह भदौरिया जी ने सभी आचार्य बंधुओं एवं आचार्य बहनों एवं कर्मचारी बंधु/भगिनी को अंग वस्त्र प्रदान कर सम्मानित किया । कार्यक्रम के अंत में श्रीमान प्रधानाचार्य जी ने सभी शिक्षकों, कर्मचारियों व भैया -बहनों को शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई दी।