रायबरेली : गोपाल सरस्वती विद्या मंदिर में मनाईं गई भारतेंदु हरिश्चन्द्र जी की जयंती

रायबरेली : गोपाल सरस्वती विद्या मंदिर में मनाईं गई भारतेंदु हरिश्चन्द्र जी की जयंती
रायबरेली। गोपाल सरस्वती विद्या मंदिर में आज श्री भारतेंदु हरिश्चंद्र जी की जयंती मनाईं गई। जिसमें आचार्य श्री गोविंद प्रसाद सोनी जी ने इनकी जीवनी पर चर्चा की। जिसमें उन्होंने यह बताया कि भारतेंदु हरिश्चंद्र हमारे हिंदी साहित्य के एक प्रसिद्ध लेखक थे। इसी के साथ प्रधानाचार्य जी ने भारतेंदु हरिश्चंद्र जी की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए बताया कि इनका जन्म 9 सितंबर 1850 में हुआ था । इनका जन्म उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में हुआ था। इनके द्वारा लिखा गया नाटक 'अंधेर नगरी चौपट राजा टके शेर भाजी टके सेर खाजा' यह एक प्रसिद्ध नाटक हैं। ऐसे कई प्रसिद्ध नाटक व रचनाएं लिखी । भारतेन्दु हरिश्चन्द्र आधुनिक हिंदी साहित्य के पितामह कहे जाते हैं। वे हिन्दी में आधुनिकता के पहले रचनाकार थे। इनका मूल नाम 'हरिश्चन्द्र' था, और इन्हें 'भारतेन्दु' की उपाधि मिली।