गोरखपुर : सरस्वती बालिका विद्यालय सूर्यकुण्ड में मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयन्ती

गोरखपुर : सरस्वती बालिका विद्यालय सूर्यकुण्ड में मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयन्ती
गोरखपुर : सरस्वती बालिका विद्यालय सूर्यकुण्ड में मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयन्ती
गोरखपुर : सरस्वती बालिका विद्यालय सूर्यकुण्ड में मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयन्ती
गोरखपुर : सरस्वती बालिका विद्यालय सूर्यकुण्ड में मनाई गई पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की जयन्ती
गोरखपुर। सरस्वती बालिका विद्यालय सूर्यकुण्ड, में आज दिनांक 25.09.2021 को पं दीनदयाल उपाध्याय जी दी जयन्ती मनाई गई। इस अवसर पर प्रधानाचार्या डॉ. सरोज तिवारी ने उनके चित्र पर माल्यार्पण कर बताया कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म 25 सितम्बर 1916 को जयपुर के निकट धानक्य गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम भगवती प्रसाद उपाध्याय था,जो नगला चंद्रभान (फरहा मथुरा) के निवासी थे। उनकी माता का नाम रामप्यारी था,जो धार्मिक प्रवृति की थी। पिता रेलवे में जलेसर रोड़ स्टेशन के सहायक स्टेशन मास्टर थे। रेल की नौकरी होने के कारण उनके पिता का अधिक समय बाहर ही बितता था। कभी-कभी छट्टी मिलने पर ही घर आते थे। वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ चिंतक और संगठनकर्ता थे। वे भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष भी रहे।उन्होनों भारत की सनातन विचारधारा को युगानुकूल रुप में प्रस्तुत करते हुए देश को एकात्म मानववाद नामक विचारधारा दी।उन्होनें हिन्दी और अंग्रेजी भाषाओं में कई लेख लिखे,जो विभिन्न पत्र पत्रिकाओं में प्रकाशित हुए।