कन्नौज : स.शि.मं.गुरसहायगंज ने भारत की प्रथम महिला शिक्षिका को उनकी पुण्यतिथि पर किया गया याद

कन्नौज : स.शि.मं.गुरसहायगंज ने भारत की प्रथम महिला शिक्षिका को उनकी पुण्यतिथि पर किया गया याद
कन्नौज। सरस्वती शिशु मंदिर, गुरसहायगंज में समाज सुधारिका सावित्रीबाई फुले जी को उनकी पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर समस्त विद्यालय परिवार उपस्थिति रहा। विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री नवनीत सिंह जी ने उनके जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि इनका जन्म 3 जनवरी 1831को हुआ था। ये भारत की प्रथम महिला शिक्षिका, समाज सुधारिका एवं मराठी कवियित्री थीं।इनको आधुनिक मराठी काव्य का अग्रदूत माना जाता है।1852 में उन्होंने बालिकाओं के लिए एक विद्यालय की स्थापना की। उन्होंने अपने पति ज्योतिराव गोविन्द राव फुले के साथ मिलकर स्त्री अधिकारों एवं शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किए। अपने जीवन को समाज के उत्थान के लिए समर्पित हुए इनका जीवन 10 मार्च 1897 को प्रभु चरणों में समर्पित हो गया।