इटावा : सरस्वती इंटर कॉलेज,मोतीझील में मनाया गया यातायात सप्ताह के अंतर्गत कार्यक्रम

इटावा : सरस्वती इंटर कॉलेज,मोतीझील में मनाया गया यातायात सप्ताह के अंतर्गत कार्यक्रम
इटावा : सरस्वती इंटर कॉलेज,मोतीझील में मनाया गया यातायात सप्ताह के अंतर्गत कार्यक्रम
इटावा : सरस्वती इंटर कॉलेज,मोतीझील में मनाया गया यातायात सप्ताह के अंतर्गत कार्यक्रम
इटावा : सरस्वती इंटर कॉलेज,मोतीझील में मनाया गया यातायात सप्ताह के अंतर्गत कार्यक्रम

इटावा। सरस्वती इंटर कॉलेज,मोतीझील में यातायात सप्ताह के अंतर्गत विद्यालय में अमर उजाला के सौजन्य से कार्यक्रम मनाया गया। मिशन शक्ति के अंतर्गत बहनों को कुछ दूरभाष नंबरों का महत्व और हम कैसे उनको अपने दैनिक जीवन में प्रयोग कर सकते हैं, कोई भी समस्या आने पर हम इन नंबरों पर बात करके अपने आप को सुरक्षित महसूस कर सकते हैं। यह विचार महिला थाना की प्रभारी श्रीमती रंजना सिंह जी ने भैया एवं बहनों के बीच कुछ बातें रखी। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि इटावा सिटी क्षेत्राधिकारी श्री राजीव प्रताप सिंह जी ने विद्यालय के भैया / बहनों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक किया। उन्होंने छात्रों को यातायात नियम बताने के साथ ही इसका पालन करने को बताया।
इस अवसर पर यातायात निरीक्षक श्री राजकुमार शर्मा जी ने कहा कि सड़क दुर्घटना रोकने में स्कूली बच्चों की भूमिका अहम है। उन्होंने कहा कि यातायात के लिए नियम बने हैं। इन नियमों का सभी को पालन करना चाहिए। उन्होंने दुपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट का प्रयोग करने, ट्रिपल राइडिंग न करने, निर्धारित गति में वाहन चलाने को कहा। उन्होंने कहा कि 18 साल से कम उम्र के बच्चों को दुपहिया वाहन चलाने के लिए न दिए जाएं। स्कूली बच्चों को यातायात के प्रति अभिभावकों को भी जागरूक करने को कहा गया। उन्होंने कहा कि बच्चे घर में अभिभावकों को भी जानकारी दें। अगर कोई परिजन बिना हेलमेट के दुपहिया वाहन लेकर निकलता है तो उसे नियम बताएं। हेलमेट को सुरक्षा के लिए आवश्यक बताया।
कार्यक्रम में विद्यालय के प्रबंधक कमाण्डर नरसिंह भदौरिया जी एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला कार्यवाह डॉक्टर अखिलेश सिंह जी उपस्थित रहें। विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री भारत सिंह जी ने आए हुए अतिथियों का परिचय कराया और विद्यालय की रूपरेखा प्रस्तुत की। अंत में विद्यालय के प्रबंधक जी ने अतिथियों को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया एवं आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में सभी आचार्य बंधु / भगिनी एवं भैया/बहन उपस्थित रहे।