जनसंघ के संस्थापक सदस्य थे सुंदर सिंह भंडारी जी : बांके बिहारी पांडे

जनसंघ के संस्थापक सदस्य थे सुंदर सिंह भंडारी जी : बांके बिहारी पांडे

प्रयागराज। विद्या भारती से संबद्ध काशी प्रांत के रानी रेवती देवी सरस्वती विद्या निकेतन इंटर कॉलेज, राजापुर, प्रयागराज के  संगीताचार्य मनोज गुप्ता की सूचनानुसार विद्यालय के प्रधानाचार्य श्रीमान बांके बिहारी पांडे जी ने राष्ट्र सेवा के लिए अपना संपूर्ण जीवन समर्पित करने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता और जनसंघ के संस्थापक सदस्य सुंदर सिंह भंडारी जी की पुण्यतिथि  पर विद्यालय परिवार सहित विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की l
           उन्होंने बताया कि सुन्दर सिंह भंडारी का जन्म १२ अप्रैल, १९२१ को उदयपुर (राजस्थान) में प्रसिद्ध चिकित्सक डा. सुजानसिंह के घर में हुआ था। १९३७-३८ में कानपुर में बी.ए. करते समय वे अपने सहपाठी दीनदयाल उपाध्याय के साथ नवाबगंज शाखा पर जाने लगे। भाऊराव देवरस से भी इनकी घनिष्ठता थी। १९३७ में इन्दौर के बालू महाशब्दे उन्हें कानपुर के पास नवाबगंज में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखा में ले गये एवं विचारधारा के प्रति समर्पण के चलते आजीवन विवाह नहीं करने एवं घर छोडने का निर्णय कर संघ के प्रचारक बनें और अपनी अंतिम श्वांस तक वे प्रचारक बने रहे।
१९४० में नागपुर से प्रथम वर्ष का संघ शिक्षा वर्ग करते समय इन्हें डा० हेडगेवार के दर्शन हुए। १९४२ में अपनी शिक्षा समाप्त कर मेवाड़ कोर्ट में वकालात की। इसमें भी जब मन नहीं लगा तो इसे छोड़ कर विद्याभवन में अध्यापन का कार्य प्रारम्भ किया। इसी कारण लोग उन्हें 'मास्टर सा' के नाम से पुकारने लगे। १९४६ में तृतीय वर्ष कर सुन्दरसिंह भंडारी प्रचारक बन गये। सर्वप्रथम इन्हें जोधपुर विभाग का काम दिया गया। १९४८ के प्रतिबंध काल में भूमिगत रहकर इन्होंने जोधपुर व बीकानेर के साथ-साथ शेखावटी क्षेत्र में भूमिगत रह सत्याग्रह का संचालन किया।
          विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों मे अनूप कुमार,सचिन सिंह परिहार,चंद्रशेखर सिंह, शैलेश सिंह यादव, अभिषेक शर्मा, पायल जायसवाल, ओंकार पांडे, संतोष कुमार तिवारी प्रथम, शैलेंद्र कुमार यादव, विद्या सागर गुप्ता, प्रवीण कुमार तिवारी, कुंदन कुमार, रामचंद्र मौर्य, अभिषेक कुमार शुक्ला, नागेंद्र कुमार शुक्ला, अजीत प्रताप सिंह, शंकरलाल पटेल, ऋचा गोस्वामी, अर्चना राय, किरन सिंह, जितेंद्र कुमार तिवारी, शिवजी राय, अनिल उपाध्याय, संतोष कुमार तिवारी द्वितीय, रविंद्र कुमार द्विवेदी, श्रवण कुमार तिवारी एवं अनुराग कुशवाहा, श्याम सुंदर मिश्रा, रुचि चंद्रा एवं कविता पांडे प्रमुख रहे।